Spread the love

Lactose Intolerance in Babies - Symptoms, Cure and Alternatives_hindi

लैक्टोज असहिष्णुता / दूध और दूध  उत्पाद की एलर्जी

आपने देखा या सुना होगा कि निरंतर दस्त होना, रोना, चिड़चिड़ापन आदि से पीडित नवजात बच्चे के बारे में, क्या आप जानते है क्यों ? ये लैक्टोज असहिष्णुता के लक्षण या साधारण शब्दों में दूध की एलर्जी से भी हो सकति है| इस लेख से हम इसके बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते है ।

1. शिशुओं में लैक्टोज असहिष्णुता क्या और क्यों होता  है?

(संक्षिप्त माहिती के लिए अंत में दिए हुए विडियो को देखिये)

शिशु जन्म से फार्मूला मिल्क, या गाय के दूध में मौजूद लैक्टोज हजम नहीं कर पाता है, तो उसे लैक्टोज असहिष्णु कहा जाता है। यह इसलिए होता है क्योंकि एंजाइम लैक्टेज़ जो लैक्टोज को पचाने की ज़रूरत होती है, इन बच्चो में इसका स्रवन नहीं होता है। बदले में, बच्चे को पाचन तंत्र के समस्याएं आती हैं क्योंकि दूध अपचित रूप में पेट के अंदर पेट में रहता है।

2. शिशुओं में लैक्टोज असहिष्णुता/ दूध एलर्जी के कौन कौन से लक्षण हैं?

Lactose Intolerance in Babies - Symptoms, Cure and Alternatives

  • अतिसार – अक्सर पानी की दस्त  
  • बच्चे अशांत होते है – व्याकुल
  • बार-बार रोते है
  • फंसे हुवा अपांनवायु  – पेट में दर्द और मरोड़
  • आंत्र में अजीब आवाज होता है
  • उल्टी करना

3. क्या स्तन के दूध से भी लैक्टोज असहिष्णुता/ दूध एलर्जी होती है?

Lactose Intolerance in Babies - Symptoms, Cure and Alternatives

नहीं, लेकिन स्तन के दूध में लैक्टोज होता है| लैक्टोज का असहिष्णुता आमतौर पर गाय के दूध या इसके साथ तैयार किए गए उत्पाद से होता है। यदि बच्चा लैक्टोज असहिष्णु है तो स्तनपान रोकना नहीं चाहिए । इसके बजाय फार्मूले दूध / कृतक दूध का पाउडर या गाय के दूध को रोक सकते हैं |

4. लैक्टोज का ज्यादा बोझ / अधिभार न करे :

Lactose Intolerance in Babies - Symptoms, Cure and Alternatives

बच्चे को स्तनपान और गायों के दूध / फार्मूले दोनों दूध से अधिक भार करने से पेट घायल हो सकता है जिससे लैक्टोज असहिष्णुता हो सकती है। इसलिए, बहुत से प्रकार के दूध के साथ छोटे पेट को भार नहीं करना चाहिए | स्तन के दूध बच्चे के लिए पर्याप्त है |

5. 6 महीने से कम उम्र के बच्चे के लिए यदि माँ का दूध पर्याप्त नहीं हैं :

Lactose Intolerance in Babies - Symptoms, Cure and Alternatives

तो स्तनपान विशेषज्ञ से सलाह लेकर लाक्टोस असहिष्णु शिशु के लिए स्वाभाविक रूप से माँ स्तनपान उत्पत्ति बढाना उपयुक्त है| इसके अलावा सोया प्रोटीन आधारित फार्मूला दूध या सिमिलक का इस्तेमाल कर सकते है जो कि सोया दूध आधारित फार्मूला है | इसमे लैक्टोज के बजाय कॉर्न सिरप का इस्तेमाल किया गया है |

6. लैक्टोज असहिष्णुता शिशुओ के लिए दूध के बदले अन्य विकल्प :

Lactose Intolerance in Babies - Symptoms, Cure and Alternatives

  • सोया दूध
  • खमीर व्युत्पन्न( यीस्ट ) दही
  • बादाम मक्खन
  • मूंगफली का मक्खन
  • सोया दही
  • बादाम का दूध

7. दूध में कैल्शियम की आपूर्ती के लिए :

Lactose Intolerance in Babies - Symptoms, Cure and Alternatives

 

लैक्टोज असहिष्णु बच्चे दूध से मिलने वाल कैल्शियम की आपूर्ती के बारे में चिंतित हैं तो आप निचे दिए गए विकल्प चुन सकते है 

  • फलियां
  • एवोकाडो / मक्खन का फल
  • अंडे
  • विटामिन डी सुप्प्लेमेंट्स इस्तेमाल कर सकते है

8. लैक्टोज युक्त खाद्य पदार्थों की जांच कैसे करना है :

Lactose Intolerance in Babies - Symptoms, Cure and Alternatives

ध्यान रहे जब आप किराने खरीदते हैं तब लैक्टोज के लिए लेबल की जांच करें। इनमें लैक्टोज होता है तो इनका इस्तेमाल न करे | घर में बनाया हुआ Lactose Free / Milk Solid Free शिशु आहार आप हमारे ऑनलाइन स्टोर से खरीद सकते हैं |

Lactose Intolerance in Babies - Symptoms, Cure and Alternatives_hindi

लैक्टोज असहिष्णु बच्चों को पनीर और दही से दूर रखने की जरूरत नहीं है क्यंकि परिपक्व चीज़ में लैक्टोज बहुत कम मात्र में होती हैं | बच्चे छोटी मात्रा सहन कर सकते हैं | चीज़ का उपयोग भी आप कर सकते हैं और इन बच्चों को खुश रखने के लिए सबसे अच्छा तरीका है |

** आपके बच्चों के बाल विशेषज्ञ / बाल-चिकित्सक आपके सबसे अच्छे मार्गदर्शक है यह लेख केवल ज्ञान उद्देश्य के लिए है |

यह लेख या रेसिपी आपको पसंद आई हो तो हमारे Facebook Page से जुड़े और हमारे वीडियोस के लिए  YouTube Channel Subscribe करें


Spread the love