Spread the love
  • 1
    Share

रागी या नचनी या फिंगर मिलेट को पीढ़ियों से बच्चो के लिए शुरुआती खाद्य माना जाता है। यह एक स्वस्थ और पौष्टिक अंकुरित पाउडर है जो सभी आयु वर्ग के लोगों को दिया जा सकता है। यह असत्य है कि रागी शिशुओं में ठंड का कारण बनती है या बच्चे के वजन कम कर देता है |अंकुरित रागी पाउडर बच्चों के लिए बहुत ही बढ़िया भोजन है |

HOMEMADE SPROUTED RAGI POWDER for Babies, Toddlers, Kids & Family

शिशुओं  बच्चों और परिवार के लिए घर में तैयार किया गया अंकुरित रागी पाउडर:

दक्षिण भारत में माँ के दूध के बाद अंकुरित रागी पाउडर , आज भी शिशुओं का पहला भोजन है यह अतिशयोक्ति नहीं है । रागी या नचनी या फिंगर मिलेट को पीढ़ियों से बच्चो के लिए शुरुआती खाद्य माना जाता है। यह एक स्वस्थ और पौष्टिक अंकुरित पाउडर है जो सभी आयु वर्ग के लोगों को दिया जा सकता है। यह असत्य है कि रागी शिशुओं में ठंड का कारण बनती है या बच्चे के वजन कम कर देता है |

हमने घर में तैयार करने के लिए अंकुरित रागी पाउडर का सरल तरीका बताया है | आप इसे घर मपे आसानी से तैयार कर सकते है । रागी दलिया 6 महीने और उसके ऊपर के बच्चों के लिए दिया जा सकता है | इसे इडली, पैनकेक, कुकिस, केक आदि जैसे व्यंजनों में इस्तेमाल किया जा सकता है। स्वस्थ और पौष्टिक रागी आलू पराठा, रागी रोटी, रागी दोसा के साथ केला और गुड़ दोसा भी बना सकते है |

बच्चों के लिए रागी का लाभ:

  • रागी में कैल्शियम की मात्रा अधिक होती है |
  • अधिक फाइबर होता है और इसलिए आसानी से पच जाता है |
  • एनीमिया को रोखता है |
  • शिशुओं या बच्चों के लिए सबसे अच्छा लोहे स्रोत होता है |
  • अंकुरण प्रक्रिया शरीर के पोषक तत्वों को अवशोषित करने के लिए आसान बनाता है |
  • रोग निरोधक शक्ति बढाता है |
  • स्तनपान कराने वाले माताओं के लिए फायदेमंद है|

बच्चों और परिवार के लिए अंकुरित रागी का पाउडर :

Hindi Subscribe Button TOTS AND MOMS

अंकुरित रागी का पाउडर

बच्चों और परिवार के लिए घर का बना अंकुरित रागी पाउडर बहुत पौष्टिक और बनाने में आसान है । पराठा, इडली, डोसा, केक और कुकी बनाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है|

लेखक:कविता प्रशांत
पकाने की विधि: शिशु आहार
भोजन:भारतीय

सामग्री

सामग्री

  • रागी / नचनी - 2 कप

बनाने का तरीका

तरीका:

  • पानी में रागी / नचनी कम से कम दो बार अच्छी तरह धो लें|
  • इसे 8 घंटे के लिए भिगोएँ |
  • भिगोने के बाद पूरा पानी छानले और एक साफ सूती/मलमल  कपड़े में स्थानांतरित करें।
  • इसे कसकर एक पोटली बनाकर बाँध दे ।
  • एक गर्म जगह में रखें जो जल्दी से अंकुरित होने में मदद करता है।
  • 8 घंटे के बाद आप ये अंकुरित रागी देख सकते हैं।
  • सूरज की रोशनी के आधार पर लगभग 24 से 48 घंटों के लिए धूप  में सूखा ले ।
  • पाउडर बनाने के लिए तैयार है|
  • मध्यम आंच पे  रंग बदलने तक रागी को कडाई में भूनें ।
  • इसे ठंडा होने दें।
  • ठंडा होने के बाद इसे मिक्सर से चिकना पाउडर बनाएं। यदि आप ज्यादा बना रहे हैं तो आप इसे पास के एक विश्वसनीय चक्की मिल में भी दे सकते हैं।
  • पिसा हुवा पाउडर को छानले ।
  • शिशुओं के लिए अंकुरित रागी पाउडर पकाने के लिए–
  • पानी या दूध के साथ 2 चम्मच घर का बना अन्कुरित रागी पाउडर अच्छी तरह से गांठरहित मिलाये ।
  • ध्यन दे इसमें कोई गांठ नहीं होना चाहिए |
  • मिश्रण करने के बाद इसे अच्छी तरह से मध्यम आंच पर लगभग 5 मिनट के लिए पकाए।
  • खाना पकाने के समय दलिया रंग बदलते देख सकते हैं।
  • ठंडा होने पर मिश्रण गाढा होगा।
  • सही स्थिरता के लिए दूध या पानी मिलके दे सकते है |

HOMEMADE SPROUTED RAGI POWDER for Babies, Toddlers, Kids & Family


Spread the love
  • 1
    Share